होमइकोनॉमी

Budget 2023: आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, मशीन लर्निंग को बढ़ावा देने के लिए बजट में हो सकते हैं कई बड़े ऐलान

Budget 2023: आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, मशीन लर्निंग को बढ़ावा देने के लिए बजट में हो सकते हैं कई बड़े ऐलान

Budget 2023: आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, मशीन लर्निंग को बढ़ावा देने के लिए बजट में हो सकते हैं कई बड़े ऐलान
Profile image

By Alok Priyadarshi  Jan 25, 2023 11:58:21 AM IST (Updated)

Budget 2023: आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, मशीन लर्निंग और बिग डाटा के इस्तेमाल को बढ़ावा देने के लिए बजट में ऐलान किये जा सकते हैं.

बजट 2023 पेश होने में अब एक हफ्ते का समय बचा है. आगामी बजट से आम आदमी से लेकर इंडस्ट्री तक को कई घोषणाओं की उम्मीद है. इस बार बजट में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, मशीन लर्निंग और बिग डाटा के इस्तेमाल को बढ़ावा देने के लिए बड़े ऐलान किये जा सकते हैं. CNBC आवाज़ को सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार नई टेक्नोलॉजी के Adoption के साथ रिसर्च और डेवलपमेंट में निवेश करने पर सरकार इंसेंटिव दे सकती है. सरकार द्वारा नेशनल लेवल पर कोआर्डिनेशन और रेगुलेशन के साथ संभावित रिस्क से निपटने के लिए इनडिपेंडेंट नोडल एजेंसी भी बनाई जा सकती है.
SMEs, Startups के लिए इंसेंटिव का प्रावधान
जानकारी के अनुसार सरकार इंडस्ट्री में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI), मशीन लर्निंग (ML) और IoT के Adoption के लिए बजट में बड़े ऐलान कर सकती है. यही नहीं SMEs, Startupsक़ब्ज़` और इंडस्ट्री 4.0 के लिए इंसेंटिव का भी प्रावधान किया जा सकता है. सरकार लगातार AI, ML, Robotics के Core R&D में निवेश को बढ़ावा देने की कोशिश कर रही है.
सरकार का देश को AI का ग्लोबल हब बनाने फोकस
सूत्रों के अनुसार सरकारी तंत्र और इंडस्ट्री में कोआर्डिनेशन के लिए नोडल एजेंसी बनाई बनाई जाएगी. एजेंसी AI के संभावित रिस्क से निपटने के लिए रेगुलेशन लाने पर विचार किया जा सकता है.
सरकार देश को आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का ग्लोबल हब बनाने पर फोकस कज रही है. इसके लिए 2025 तक GDP में इससे करीब $500 mn का योगदान मिल सकता है.
आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का मतलब एक मशीन में सोचने-समझने और निर्णय लेने की क्षमता का विकास करना. आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस को कंप्यूटर साइंस का सबसे एडवांस रूप माना जाता है.

Previous Article

Budget 2023 : मोदी सरकार के इस बजट से सीनियर सिटीजन्स को हैं ढेर सारी उम्मीदें

Next Article

Crude Oil Price : चीन की बढ़ती डिमांड से क्रूड फिर उछला, जानिए आज क्या हैं ब्रेंट के दाम

arrow down

Market Movers

Top GainersTop Losers
CurrencyCommodities
CompanyPriceChng%Chng