होमपर्सनल फाइनेंस

Budget 2023: क्या 2.50 लाख की सीमा को बढ़ाएगी सरकार? 5 लाख की Threshold Limit पर क्या है राय?

personal finance | IST

Budget 2023: क्या 2.50 लाख की सीमा को बढ़ाएगी सरकार? 5 लाख की Threshold Limit पर क्या है राय?

Mini

Income Tax Limit Hike : सीएनबीसी आवाज़ के खास शो टैक्स गुरू में इस बार तीन एक्सपर्ट- मुकेश पटेल, गौरी चड्ढा, शरद कोहली से लक्ष्मण रॉय ने बातचीत की है.

केंद्रीय बजट 2023 में इनकम टैक्स छूट की सीमा या स्टैंडर्ड कटौती को बढ़ाया जा सकता है. वर्तमान 2.5 लाख रुपये से यह सीमा 5 लाख रुपये तक बढ़ाई जा सकती है.पिछले कुछ केंद्रीय बजटों में भारतीय मिडिल क्लास को टैक्स स्लैब, टैक्स दरों या स्टैंडर्ड कटौती में बदलाव के माध्यम से कोई राहत नहीं मिली है और कोविड-19 महामारी के बाद ऐसे लोगों के लिए जीवन-यापन थोड़ा कठिन हो गया है.
2014 से आयकर सीमा में कोई बदलाव नहीं हुआ है. पिछले सात महीनों में रेपो रेट में कई बार बढ़ोतरी के साथ EMI बढ़ गई हैं. EPFO की ब्याज दरों में कटौती के साथ बचत घट गई है और रोजमर्रा की वस्तुओं पर जीएसटी बढ़ने से रसोई का बजट भी बढ़ गया है.
टैक्स में राहत को लेकर वित्त मंत्रालय में विचार-विमर्श जारी है और अटकलें लगाई जा रही हैं कि केंद्रीय बजट 2023 में इनकम टैक्स छूट की सीमा या स्टैंडर्ड कटौती को बढ़ाया जा सकता है. वर्तमान 2.5 लाख रुपये से यह सीमा 5 लाख रुपये तक बढ़ाई जा सकती है, जिससे सैलरी पर काम कर रहे व्यक्ति के हाथों में ज्यादा इनकम बच सकेगी.
एक आम टैक्सपेयर्स को उस टैक्स स्लैब के आधार पर इनकम टैक्स का भुगतान करना होता है जिसमें वो आते हैं. टैक्स स्लैब व्यक्ति की आय के आधार पर तय किया जाता है. इसलिए, ज्यादा आय वाले व्यक्तियों को अधिक टैक्स का भुगतान करना पड़ता है. स्लैब सिस्टम को देश में एक उचित टैक्स सिस्टम बनाए रखने के लिए पेश किया गया था. हर एक बजट में अक्सर स्लैब बदलते रहते हैं.
फाइनेंशियल 2022 - 2023 के लिए टैक्स स्लैब (AY 2023 - 2024)
इनकम टैक्स स्लैबटैक्स रेट
2.5 लाख रुपये तक-
2.50 - 5 लाख रुपये के बीचकुल आय का 5% जो कि 2.5 लाख रुपये से अधिक है
5 - 7.50 लाख रुपये के बीचकुल आय का 10% जो 5 लाख रुपये से अधिक है+ 12,500 रुपये
7.50 - 10 लाख रुपये के बीचकुल आय का 15% जो 7.5 लाख रुपये से अधिक है + 37,500 रुपये
10- 12.50 लाख रुपये के बीचकुल आय का 20% जो 10 लाख रुपये से अधिक है + 75,000 रुपये
12.50- 15 लाख रुपये के बीचकुल आय का 25% जो 12.5 लाख रुपये से अधिक है + 1,25,000 रुपये
15 लाख रुपये से ऊपरकुल आय का 30% जो 15 लाख रुपये से अधिक है + 1,87,500 रुपये
 
next story

Market Movers

Top GainersTop Losers
CurrencyCommodities
CompanyPriceChng%Chng