होमपर्सनल फाइनेंस7.5 लाख से लेकर 20 लाख रुपये सालाना है कमाई तो जानिए कौन सी टैक्स व्यवस्था बढ़िया?

7.5 लाख से लेकर 20 लाख रुपये सालाना है कमाई तो जानिए कौन सी टैक्स व्यवस्था बढ़िया?

7.5 लाख से लेकर 20 लाख रुपये सालाना है कमाई तो जानिए कौन सी टैक्स व्यवस्था बढ़िया?
Profile image

By HINDICNBCTV18.COMFeb 3, 2023 7:50:13 AM IST (Published)

New Tax Regime: 15.5 लाख रुपये से अधिक सैलरी पर काम करने वाले व्यक्तियों की तरफ से क्लेम की गई अधिकतम छूट और कटौती 4.25 लाख रुपये से ज्यादा है, तो वह 1 अप्रैल, 2023 से पुरानी कर व्यवस्था के तहत कम टैक्स का भुगतान कर सकते हैं.

बजट 2023 में घोषित नई कर व्यवस्था के संशोधित आयकर स्लैब ने सैलरी पाने वाले और वरिष्ठ नागरिकों को पुरानी कर व्यवस्था और नई कर व्यवस्था में से एक को चुनने का विकल्प दिया है. दोनों ऑप्शंस में से किसे चुने इसका फैसला करने के लिए करदाता “ब्रेक पॉइंट” की मदद ले सकते हैं. ब्रेक पॉइंट से यहां मतलब है कि अधिकतम कटौती का लाभ लिया जा सके. किसी को भी पुरानी कर व्यवस्था में दावा ऐसे करना चाहिए, जिससे दोनों व्यवस्थाओं में देय इनकम टैक्स समान हो जाए.

यदि 15.5 लाख रुपये से अधिक सैलरी पर काम करने वाले व्यक्तियों की तरफ से क्लेम की गई अधिकतम छूट और कटौती 4.25 लाख रुपये से ज्यादा है, तो वह 1 अप्रैल, 2023 से पुरानी कर व्यवस्था के तहत कम टैक्स का भुगतान कर सकते हैं.
डॉक्यूमेंट जमा करने की जरूरत नहीं
छूट और कटौतियों में 50,000 रुपये की स्टैंडर्ड कटौती शामिल है, जो एक व्यक्ति के लिए ऑटोमेटिकली उपलब्ध है. स्टैंडर्ड कटौती का दावा करने के लिए उसे कोई डॉक्यूमेंट जमा करने की जरूरत नहीं पड़ेगी. जैसे-जैसे सैलरी का लेवल घटेगा, ब्रेक-ईवन की कैलकुलेशन करते समय कटौती और छूट की राशि भी घट जाएगी.
arrow down