होमतस्वीरेंपर्सनल फाइनेंस

    नौकरी करने वालों के लिए बड़ी खबर- पीएफ से जुड़े नियमों को बदलने की तैयारी

    नौकरी करने वालों के लिए बड़ी खबर- पीएफ से जुड़े नियमों को बदलने की तैयारी

    नौकरी करने वालों के लिए बड़ी खबर- पीएफ से जुड़े नियमों को बदलने की तैयारी
    Profile image

    By Alok Priyadarshi  Nov 25, 2022 8:28:15 AM IST (Published)

    Switch to Slide Show
    Switch-Slider-Image

    SUMMARY

    ईपीएफओ की कर्मचारी भविष्य निधि (ईपीएफ) योजना के लिए वेतन सीमा 15,000 रुपये प्रति माह है. 2014 में सरकार ने इसे संशोधित कर 6,500 रुपये प्रति माह से 15,000 रुपये प्रति माह किया था.

    Image-count-SVG1 / 5
    (Image: )

    सरकार जल्द ही एम्पलॉयीज प्रॉविडेंट फंड आर्गनाइजेशन (ईपीएफओ) की प्रमुख रिटायरमेंट बचत योजना के लिए सैलरी लिमिट में बदलाव कर सकती है. CNBC आवाज़ को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, कर्मचारी और कंपनी दोनों की तरफ से किए जाने वाले अनिवार्य योगदान में बढ़ोतरी होगी. ऐसा होने से कर्मचारी अपनी रिटायरमेंट के लिए अधिक पैसे की बचत कर पाएंगे.

    Image-count-SVG2 / 5
    (Image: )

    फिलहाल, ईपीएफओ की कर्मचारी भविष्य निधि (ईपीएफ) योजना के लिए वेतन सीमा 15,000 रुपये प्रति माह है. 2014 में सरकार ने इसे संशोधित कर 6,500 रुपये प्रति माह से 15,000 रुपये प्रति माह किया था.

    Image-count-SVG3 / 5
    (Image: )

    यह स्कीम सिर्फ उन कंपनियों पर लागू है जिनमें 20 से अधिक कर्मचारी हैं. ज्यादा सैलरी तय करने के लिए एक विशेषज्ञ समिति का गठन किया जाएगा. साथ ही इस योजना को महंगाई से जोड़ा जाएगा और ईपीएफओ के तहत कवरेज के लिए समय-समय पर इसकी समीक्षा की जाएगी.

    Image-count-SVG4 / 5
    (Image: )

    सैलरी की सीमा बढ़ने से कर्मचारी और कंपनी दोनों की तरफ से किए जाने वाले अनिवार्य योगदान में बढ़ोतरी होगी फिलहाल, ईपीएफओ की कर्मचारी भविष्य निधि (ईपीएफ) योजना के लिए वेतन सीमा 15,000 रुपये प्रति महीना है.

    Image-count-SVG5 / 5
    (Image: )

    ईपीएफओ ने छह महीने से भी कम समय में रिटायर होने वाले अपने अंशधारकों को कर्मचारी पेंशन योजना 1995 (ईपीएस-95) के तहत जमा राशि निकालने की 1 नवंबर को परमिशन दे दी. भाषा की खबर के मुताबिक, फिलहाल कर्मचारी भविष्य निधि कोष (ईपीएफओ) ग्राहकों को छह महीने से कम सेवा बाकी रहने पर अपने कर्मचारी भविष्य निधि खाते में ही जमा राशि की निकासी की अनुमति मिली हुई है. श्रम मंत्रालय के बयान के मुताबिक, सीबीटी ने सरकार से सिफारिश की है कि छह महीने से भी कम सेवा अवधि वाले सदस्यों को अपने ईपीएस खाते (EPS 95 scheme) से निकासी की सुविधा दी जाए.

    Check out our in-depth Market Coverage, Business News & get real-time Stock Market Updates on CNBC-TV18. Also, Watch our channels CNBC-TV18, CNBC Awaaz and CNBC Bajar Live on-the-go!

    Previous Article

    अब घर बैठे करें UAN नंबर का KYC अपडेट, यहां देखिए सबसे आसान तरीका

    Next Article

    लंबे समय तक मार्केट में बने रहने से मिलता है फायदा, ये हैं 25 सालों में धमाल मचाने वाले म्यूचुअल फंड्स

    arrow down

    Market Movers

    CompanyPriceChng%Chng