होमफोटोशेयर बाजार

Stock Market Crash : इन 3 वजहों से टूटा शेयर बाजार, डूबे गए 4 लाख करोड़ रुपये

Stock Market Crash : इन 3 वजहों से टूटा शेयर बाजार, डूबे गए 4 लाख करोड़ रुपये

Stock Market Crash : इन 3 वजहों से टूटा शेयर बाजार, डूबे गए 4 लाख करोड़ रुपये
Profile image

By Ankit Tyagi  Jan 25, 2023 3:39:19 PM IST (Published)

Switch to Slide Show
Switch-Slider-Image

SUMMARY

Stock Market Crash : बुधवार के दिन घरेलू बाजार में भारी गिरावट देखने को मिली. इस गिरावट में निवेशकों के 4 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा डूब गए,

Image-count-SVG1 / 5
(Image: )

बुधवार के दिन शेयर बाजार में भारी गिरावट देखने को मिली है. इस गिरावट में निवेशकों के 4 लाख करोड़ रुपये डूब गए है. एक्सपर्ट्स का कहना है कि फिलहाल निवेशकों को घबराना नहीं है. बजट से पहले पैसा लगाने से बचना चाहिए.

Image-count-SVG2 / 5
(Image: )

क्यों टूटा शेयर बाजार-(1) एयूएम कैपिटल के राजेश अग्रवाल ने सीएनबीसी टीवी18 हिंदी को बताया कि अडानी की खबर के बाद बैंकिंग शेयरों पर दबाव बना. इसी का असर सेंसेक्स, निफ्टी पर दिखा है. आपको बता दें कि एक रिपोर्ट में अडानी ग्रुप की वैल्यूएशन को लेकर सवाल खड़े किए गए है. इसी वजह से बाजार पर दबाव बना.

Image-count-SVG3 / 5
(Image: )

(2) एक्सपायरी का असर भी बाजार पर दिखा- एक्सपायरी के चलते भी बाजार पर दबाव दिखा है. निवेशक फिलहाल बजट पर फोकस कर रहे हैं. इसीलिए नए सौदे बनाने से बच रहे हैं.

Image-count-SVG4 / 5
(Image: )

(3) इस गिरावट के पीछे टी-1 सेटलमेंट नियम का असर भी बाजार पर दिखा है. आपको बता दें कि 27 जनवरी से भारत की लगभग 200 सबसे बड़ी लिस्टेड कंपनियां लेन देन से जुड़ी प्रक्रिया को बदल रही हैं.

Image-count-SVG5 / 5
(Image: )

इस बदलाव का सीधा असर आप पर पड़ेगा क्योंकि 27 जनवरी से इन कंपनियों में होने वाली खरीद या बिक्री अब पहले के मुकाबले आधे समय में पूरी कर ली जाएंगी. इससे आम निवेशकों को काफी फायदा होगा. क्योंकि इससे अब पैसा या शेयर जल्द उनके पास पहुंचेंगे.

Check out our in-depth Market Coverage, Business News & get real-time Stock Market Updates on CNBC-TV18. Also, Watch our channels CNBC-TV18, CNBC Awaaz and CNBC Bajar Live on-the-go!

Previous Article

शेयर बाजार : 2023 के पहले मंथली एक्सपायरी के दिन टूटा बाजार, निवेशकों के डूबे करीब 4 लाख करोड़ रुपये

Next Article

ब्रांडेड कपड़े का बिजनेस करने वाली इस बड़ी कंपनी को हुआ घाटा, आखिर क्या रही वजह?

arrow down

Market Movers

Top GainersTop Losers
CurrencyCommodities
CompanyPriceChng%Chng