होमशेयर बाजार

    Easy Trip Planners का शेयर 1 हफ्ते में 40% चढ़ा, NSE ने पूछे सवाल, अब SEBI भी उठाने जा रहा बड़ा कदम

    Easy Trip Planners का शेयर 1 हफ्ते में 40% चढ़ा, NSE ने पूछे सवाल, अब SEBI भी उठाने जा रहा बड़ा कदम

    Easy Trip Planners का शेयर 1 हफ्ते में 40% चढ़ा, NSE ने पूछे सवाल, अब SEBI भी उठाने जा रहा बड़ा कदम
    Profile image

    By Ashutosh Verma  Nov 25, 2022 8:15:21 AM IST (Updated)

    पिछले तीन कारोबारी सत्र में Easy Trip के शेयर में जबरदस्त तेजी देखने को मिली है. 24 नवंबर को ये शेयर NSE पर 67.95 रुपए प्रति शेयर के भाव पर बंद हुआ था. इस हफ्ते में ही शेयर में करीब 40% की तेजी आ चुकी है.

    बोनस शेयर जारी होने के बाद से Easy Trip Planners के शेयर में करीब 40 फीसदी की तेजी देखने को मिली है. लेकिन इस तूफानी तेजी के बाद एक्सचेंज ने कंपनी से सवाल पूछे है. मनीकंट्रोल ने अपनी एक रिपोर्ट में मार्केट एक्सपर्ट के हवाले से बताया कि बोनस इश्यू को लेकर नियमों में ढील का ऑपरेटर्स फायदा उठा रहे हैं. आमतौर पर बोनस इश्यू और शेयर विभाजन के बाद शेयर में बढ़त के साथ ही सेटल होते हैं. इस दौरान शेयर के रियल वैल्यू में कोई बदलाव नहीं होता है क्योंकि कम भाव पर ही रिटेल निवेशक आकर्षित होते हैं.
    हालांकि, पिछले ती कारोबारी सत्र में Easy Trip के शेयर में जबरदस्त तेजी देखने को मिली है. 24 नवंबर को ये शेयर NSE पर 67.95 रुपए प्रति शेयर के भाव पर बंद हुआ था. इस हफ्ते में ही शेयर में करीब 40% की तेजी आ चुकी है.
    अभी तक अलॉट नहीं हुए हैं Easy Trip के अतिरिक्त शेयर
    एक्सपर्ट को शेयर में ये तेजी चौंकाने वाली लगी है. खासकर एक ऐसे समय में जब कंपनी के शेयरों में लंबे समय से सुस्ती थी. वहीं अब एक हफ्ते में 40 फीसदी की तेजी निवेशकों को अचंभित कर रही है.
    इस साल अप्रैल महीने से ही Easy Trip के शेयर सीमित दायरे में ही कारोबार करते नजर आए है. ट्रेडर्स का मानना है कि फ्लोटिंग शेयरों के आभाव में Easy Trip के शेयरों में तेजी देखने को मिली है. शेयर विभाजन और बोनस इश्यू के बाद अतिरिक्त शेयर अभी तक निवेशकों के खाते में नहीं पहुंचे हैं.
    निवेशकों के खाते में अभी तक नहीं पहुंचे शेयर
    आमतौर पर जब कोई कंपनी बोनस शेयर जारी करने का ऐलान करती है तो रिकॉर्ड डेट तक इसमें तेजी देखने को मिलती है. फिर इसके बाद शेयर भाव लगभग स्थिर हो जाते हैं.
    Easy Trip Planners के मामले में 11 अक्टूबर को जब बोर्ड ने बोनस शेयर के रेश्यो का ऐलान किया था, तब शेयर भाव में बहुत बदलाव देखने को नहीं मिला है.
    इसके बाद रिकॉर्ड डेट से एक महीने से लेकर एक दिन पहले तक शेयर दायरे में ही कारोबार करते नजर आया. पिछले 3 सत्र में Easy Trip के औसतन करीब 8.5 करोड़ शेयर हर रोज ट्रेड किए हैं. पिछले हफ्ते को रोजाना औसत से ये करीब 3 गुना है.
    NSE ने पूछे सवाल
    कंपनी की ओर से दोनों एक्सचेंजो को दी गई जानकारी से पता चलता है कि निवेशकों के खाते में 8 दिसंबर या इससे पहले अतिरिक्त शेयर भेज दिए जाएंगे. रिकॉर्ड डेट से लेकर शेयर जारी होने के बीच 15 दिनों से ज्यादा का अंतर है. रेगुलेटरी नियमों के तहत बोर्ड बैठक से लेकर बोनस जारी करने के लिए तय समय होता है लेकिन इसके बाद कंपनी कब तक शेयर जारी करती है, इस बारे में कोई तय समयसीमा नहीं है. आमतौर पर रिकॉर्ड डेट के 15 दिनों के अंदर ही बोनस शेयर जारी कर दिए जाते हैं. हालांकि, ये कंपनियों पर भी बहुद हत तक निर्भर होता है. NSE की ओर से मांगी गई सफाई में Easy Trip ने 22 नवंबर अपने जवाब में कहा कि शेयर भाव या वॉल्यूम में उतार-चढ़ाव बाजार और आर्थिक स्थिति पर निर्भर करता है.
    सेबी नए नियम पर कर रहा विचार
    Moneycontrol ने अपनी एक अलग रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से कहा है कि सेबी अब बोनस शेयर और शेयर विभाजन को लेकर सख्त नियम बनाने पर विचार कर सकता है. इसके तहत एक्स-डेट के 15 दिनों के अंदर ही शेयर जारी करने का प्रावधान हो सकता है.
    arrow down

    Market Movers

    CompanyPriceChng%Chng